९ अगस्त क्रांति दिवस पर ईवीएम की खिलाफत में लांग मार्च

९ अगस्त क्रांति दिवस  पर ईवीएम की खिलाफत में लांग मार्च

                     परिषद में लांग मार्च की घोषणा

ओमकार मणि:

कल्याण:-देश की नयी चुनाव प्रणाली की कुख्यात ईवीएम मसीनों की मुखालफत के स्वर अब तीखे हो रहे हैं।पूर्व पार्षद उदय रशाल के नेतृत्व व संयोजन व संचालन मे कल्याण पूर्व कशिश होटल मे परिसंवाद का आयोजन किया गया, परिसंवाद में एकमत से ईवीएम की खिलाफत पर सहमति बनी।परिषद के राष्ट्रीय निमंत्रक रवि भिलाणे, फिरोज मिठीबोरवाला, ज्योति बडेकर द्वारा मतदान मे  ईवीएम प्रणाली की खामियों को विस्तार से मार्गदर्शन मे जानकारी दी गई। परिसंवाद के बाद, क्रांति दिवस ९ अगस्त को ईवीएम के खिलाफ लांग मार्च करने घोषणा की गई।बहुचर्चित मतदान की ईवीएम प्रणाली राजनैतिक संगठनों की आंख मे खटक रही है। कल्याण मे आयोजित परिसंवाद मे राजनैतिक संगठनों के पदाधिकारी मौजूद थे।परिसंवाद मे सर्वसम्मति से  मतपत्रों से चुनाव करवाने की मांग और चुनाव में ईवीएम मसीन का इस्तेमाल नही हो,ऐसा प्रस्ताव पास किया गया।

परिसंवाद में बतौर वक्ता संतोष केणे, धनंजय जोगदंड, सीपीआई के कालू कोमस्कर ने भी मार्गदर्शन किया। उपस्थितों में पूर्व नगरसेवक अनंता गायकवाड, कांग्रेस के शैलेश तिवारी,स्वा. रिपब्लिकन के लक्ष्मणराव आम्भोरे, राकांपा के प्रसन्ना अचलकर, मुकेश झा, संजय निरभवणे, माया चव्हाण, वंदना लोखंडे, आदि उपस्थित थे। उपस्थित मान्यवरों का वर्षाताई कलके द्वारा सत्कार किया गया, परिसंवाद का संचालन उदय रशाल ने किया।

९ अगस्त क्रान्ति दिन पर ईवीएम के विरोध में लांग मार्च की घोषणा के साथ शहर मे नया राजनैतिक नेतृत्व उभरने का भी अनदेखा शिलान्यास भी किया गया।